इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

शनिवार, 18 अप्रैल 2009

लीजिये विरासत दिवस पर ब्लॉगजगत की विरासतों की घोषणा हुई

ऐसा कैसे हो सकता है कि विरासत दिवस पर हमारे ब्लॉगजगत में कुछ विशेष न हो,भाई मुझे सहित कुछ लोग तो इसी ताक में रहते हैं कि कब कोई दिवस आए और हो गयी अपनी एक पोस्ट पक्की । खैर यहाँ मुद्दे से नहीं भटकना नहीं है। जल्दी से मुद्दे पर वापस आते हैं। दरअसल विरासत दिवस पर बहुत से वरिस्थ ब्लोग्गरों ने ( नहीं ये बिल्कुल मत पूछना कि वरिस्थ कौन और ब्लोग्गेर्स कौन, आप आम खाइए न , गुठलियों ....) तय किया कि यही सही वक्त है जब हमें भी यहाँ विरासत बन चुके ब्लोग्गेर्स की घोषणा कर देनी चाहिह्ये । सो कोशिश की गयी परिणाम सूची आपके सामने है, हाँ जो खम्भे , स्तम्भ, मीनार, छूट जाएँ वो अन्यथा न लें आख़िर इस परिवार में विरासतों की गन्ना कोई आसान काम थोड़ी है।

१ उड़नतश्तरी जी :- जैसे ही इनके नाम की घोसना हुई, सब हल्ला करने लगे कि यार एलियन जी को कैसे शामिल किया जा सकता है, मगर जांच के बाद पता चला कि ये मोस्ट आदेंतिफाईद ओब्जेक्त तो सबके ब्लॉग पर पधारते हैं और इनके यहाँ भी सब पहुँच जाते हैं, सो विरासत नंबर एक यही हैं।

२। आशीष भाई:- अजी विरासतों में मोहल्ला न होगा तो कहे की विरासत ।

प्रमोद जी :- जी हाँ अपने अजदक जी , नाम के अनुरूप अपनी विशिष्ट शैली के कारण विरासत तो हैं ही॥

रविश जी :- जब मोहल्ला आयेगा तो कस्बा कैसे छूट सकता है , फ़िर इन्होने तो पूरे हिन्दुस्तान में ही ब्लोग्गर्स को फमोउस कर दिया है जी सो विरासत तो ये भी हैं॥

दिनेश जी :- विरासत की बात होगी तो खम्बा भी जरूर गाड़ना पडेगा, और ब्लॉगजगत पर इनसे majboot खम्बा किसका है भाई ।

यशवंत जी :- सारी भडास बाहर निकालने के ओलिए इन्हीं बी विरासत के रूप में याद रखना पडेगा।

भाई ज्ञान्दुत्त :- ई पान की दूकान वाले महाराज जी तो विरासत के ख़ास स्तम्भ हैं। सब पोस्टवे पान की गुक्म्ती से ले अआते हैं भाई।

रवि रतलामी जी :- रतलाम के इस रवि के कारण ही तो ब्लॉगजगत में साहित्य का प्रकाश फैला हुआ है।

शास्त्री जी :- इस अंतरजाल पर सबसे बड़े जाल के कारण शास्त्री जी भी विरासत में आ गए है।

आशीष भाई : जी पूरे होटल में यही तो एक हैं जो हम बैरे लोगों को टिप दे के जाते हैं तो हैं न विरासत।

महेंदर भाई :- निरंतरता के कारण ये भी विरासत हैं और अब तो चिटठा चर्चा में हाथ आजमा रहे हैं

दीपक भारदीप जी :- साहित्य की विरासत हैं ये तो यहाँ तो और ज्यादा महत्वपूर्ण हैं...

अपने युनुस भाई :- अजी एक ही रेडियो चैनेल है यहाँ जो ऍफ़ एफम की तरह बकबक नहीं करता सिर्फ़ मधुर संगीत सुनाता है इस संगीतमय विरासत को सलाम ।

अपने विवेक भाई :- स्वप्नलोक की सैर कराने वाले विवेक भाई न जाने कहाँ रूठ कर चल दिया, बहरहाल विरासत तो हैं हे वे भी
अलोक जी :- अपने अगड़म बगड़म की गड़बड़झाला के लिए ये इन्हें भी ...

डाक्टर अनुराग जी :- अमा पता नहीं कैसे डाक्टर हैं हम तो पक्के मरीज बन गए हैं इनके , ये भी विरासत है


अब बात करते हैं अपनी महिला विरासतों की , भाई इनके बिना कुछ भी अधूरा है ;-

ममता टी वी :- जिस तरह युनुस भाई इकलौते रेडियो स्टेशन है उसी तरह ममता टी वी ब्लॉगजगत का इकलौता टी वी चैनेल है , सो जाहिर है कि विरासत है।

सुज्जता जी :- इन चोखेर बालियों ने तो महिला ब्लॉग्गिंग को एक नयी दिशा दे दी है

नीलिमा जी :- ब्लॉगजगत की पहली शोध क्षात्रा सो ये भी विरासत हैं॥

डाक्टर पूजा ;- यदि अनुराग बाबू यहाँ दिल के दर्द का इलाज करते हैं तो पूजा जी अपने शोध से ब्लॉग्गिंग की बिमारियों का

मीनाक्षी जी :- अपने हायकू और त्रिपद्माओं के खासियत के कारण ये भी विरासत है

बेजी जी :- बेजी का क्या कहें इनकी कठपुतलियों ने तो पूरे ब्लॉगजगत को कथ्प्पुत्ली बना रखा है सो ये तो विरासत हैं ही।

प्रत्यक्षाजी :- प्रत्यक्ष को प्रमाण की कोई आवश्यकता नहीं होती, ये इनकी ब्लॉग पर जाने के बाद ख़ुद पता चल जाता है ये तो विरासत हैं

संगीता जी :-ज्योतिष और कम्प्यूटर का अनोखा संगम , विज्ञान की विरासत हैं ॥

विरासत दिवस ख़त्म होने वाला है जो घोषित न हो पाये वो भी बुलंद इमारत तो हैं ही, इसलिए सबको शुभकामनायें........

20 टिप्‍पणियां:

  1. बिल्‍कुल नए अंदाज का पोस्‍ट ... सबको बधाई एवं शुभकामनाएं भी ... ताकि वे आगे भी अपनी विरासत को अच्‍छी तरह संभालते रहें।

    उत्तर देंहटाएं
  2. मुझको था विश्वास कि होगा मेरा नाम।
    छूट गया तो क्या हुआ आगे कर दें काम।।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    मुश्किलों से भागने की अपनी फितरत है नहीं।
    कोशिशें गर दिल से हो तो जल उठेगी खुद शमां।।
    www.manoramsuman.blogspot.com
    shyamalsuman@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  3. शुक्र है हम अभी विरासत न हुए !

    उत्तर देंहटाएं
  4. achanal mujhe yaad aayaa ki ek aur majboot kilaa rah gaya, apne fursatiyaa jee, is anupam virasat ke bina to virasaton kee list pooree ho hee nahin saktee, waise meet bhai, aur na jane kitnee virasatein chhot gayee hain abhee lagtaa aglee soochein jaaree karnee padegee, shyamal jee aap to dil ke kareeb hain

    उत्तर देंहटाएं
  5. अजय कुमार झा का नाम विरासत में से गायब क्यों है भाई!

    उत्तर देंहटाएं
  6. दूसरी बार हुआ है ऐसा. अनिल जी ने सरकार बनाई तो अनूप जी को छोड़ दिया. आप ने विरासत लिखी तो फिर उन्हें छोड़ दिया. मुझे तो लगता है कि तात्पर्य यह है कि पितामह भीष्म गद्दी पर नहीं बैठ सकते.

    वैसे आपको २ के आगे की गिनती तो आती है ना. ;)

    उत्तर देंहटाएं
  7. ha. ha ha , jaroor kautuk jee, gintee to aatee hai magar na jane kyun maine aage ginna chhod diya, waise anoop jee kaa chhoot jaana mahaj ek sanyog thaa. lagtaa hai jald hee un par ek post alag se likhnee padegee.

    उत्तर देंहटाएं
  8. अरे बाप रे, एक हफ्ता ब्लॉग से दूर रहे नहीं कि विरासत हो गए...कहीं जल्दी ही इतिहास न हो जाएँ :) अनूप जी पर फुर्सत में एक पोस्ट जरूर लिख दीजियेगा...अच्छी लिस्ट रही, और विरासत बनने कि क्या वजहें दी है...वाह वाह :)

    उत्तर देंहटाएं
  9. मुझे आपका ब्लोग बहुत अच्छा लगा ! आप बहुत ही सुन्दर लिखते है ! मेरे ब्लोग मे आपका स्वागत है !

    उत्तर देंहटाएं
  10. विरासत दिवस पर इन विरासतों की सूची जारी कर आपने बड़ा अच्छा काम किया । इनके संरक्षण के ठोस उपायों का जिक्र भी कर देते ।

    अभिनव प्रस्तुति । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. aap logon kaa bahut bahut shukriyaa, ise pasand karne ke liye, aur haan bhai ye to maine , man mein jo aayaa likh diya, mere liye to sabhee shreddhey aur anukarneeya hain, avinaash (vachaspati ), bhai bhoolwash aapkee meenaar kee charchaa bhee choot gayee, ek baar fir dhanyavaad.

    उत्तर देंहटाएं
  12. :)
    sahi hai bhai.. abhi tak ham virasat nahi huye hain.. abhi to ham vartman hain.. aur kam se kam agle 2 saal tak vartman rahne ka dava bhi karte hain.. ;)

    उत्तर देंहटाएं
  13. क्या बात है जी मगर चिठ्ठी सबकी एक चिठ्ठी में सबको भेज रहा हूँ .आभार

    उत्तर देंहटाएं
  14. नया प्रयोग बहुत भाया,बधाई।
    आप का ब्लाग बहुत अच्छा लगा।
    मैं अपने तीनों ब्लाग पर हर रविवार को
    ग़ज़ल,गीत डालता हूँ,जरूर देखें।मुझे पूरा यकीन
    है कि आप को ये पसंद आयेंगे।

    उत्तर देंहटाएं
  15. जय हो!! अब तो हम विरासत हो लिए. पुण्य कमायेंगे बस! :)

    उत्तर देंहटाएं

मैंने तो जो कहना था कह दिया...और अब बारी आपकी है..जो भी लगे..बिलकुल स्पष्ट कहिये ..मैं आपको भी पढ़ना चाहता हूँ......और अपने लिखे को जानने के लिए आपकी प्रतिक्रियाओं से बेहतर और क्या हो सकता है भला

साथ चलने वाले

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...