इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

शुक्रवार, 5 जून 2009

ब्लॉग्गिंग में हीरो बनने के कुछ नुस्खे

जैसा की पिछले कई दिनों से देख रहा हूँ और आप भी तो झेल ही रहे हैं.....कमबख्त और दिमाग दोनों ही ब्लॉग्गिंग पर ही आकर अटक गए हैं .....और जो भी कुछ निकलता जा रहा है उसे आपके सामने जस का तस रख देता हूँ....और मुझे तो लग रहा है की इसमें आपको भी स्वाद आने लगा है....ठीक है अब आगे झेलिये...अज बात करते हैं की यदि फ़टाफ़ट आपको हीरो बनना है , अजी हिंदी ब्लॉग्गिंग में ..वर्ना टी वी और बोलीवुड में बनने के लिए तो टैलेंट हंट में भागमभाग करनी पड़ेगी ....मगर याहां बिलकुल आसान है....अरे नहीं नहीं कोई ताबीज नहीं है यार...कोई बलि वैगेरह भी नहीं देना है....बस कुछ ताजातरीन नुस्खे आजमाइए ...नतीजा आपके सामने होगा....और हाँ इन नुस्खों को पहले ही पेटेंट करा लिए गया है इसलिए दुबारा कराने का प्रयास न करें.... तो लीजिये पेश हैं जनाब वो अनोखे नुश्के जो आपको न सही आपके ब्लॉग को जरूर हिट करा सकते हैं.... १. एक पोस्ट उड़नतश्तरी पर लिखें :- हलाँकि मैं न भी कहूँ तो भी आप सबका मन कभी कभी न कभी तो ये kartaa ही होगा की जो रहस्यमयी गोलमगोल तिप्प्न्निकार आप सबके ब्लॉग पर प्रकट होता है...अच्छी अच्छी बातें कहता है...आपका उत्साह बढाता है उसके ऊपर कुछ न कुछ लिखा जाए....और फिर ज्यादा कोशिश भी नहीं करनी पड़ेगी....बस ये लिख सकते हैं की एक बड़े ही मुलायम से पृथिवी के आकार के अन्तरिक्ष के प्राणि जो की हमारे ब्लॉग पर प्रकट हो कर आर्शीवाद देते हैं उनका आभार पूरे हिंदी ब्लॉग जगत को करना चाहिए....आजकल ये ब्लॉगजगत में पूछी जा रही सभी पहेलियों का उत्तर बिलकुल सही सही दे देते हैं...यार ये सारी पहेलियों के उत्तर पहले ही गैस पेपर से पढ़ लेते हैं........शीर्षक में उड़नतश्तरी का नाम भर ले लेने से आपकी दस तिप्प्न्नियाँ.....(सिर्फ नाम लिख कर भी छोड़ दिया तो ).......पक्की हैं....मैं खुद सोच रहा हूँ हूँ की हफ्ते में एक पोस्ट तो उड़नतश्तरी पर लिख ही डालूं...ये क्यूँ न एक ब्लॉग ही उनके नाम पर शुरू कर दूं....नाम रख दूंगा...उड़न फटफटी... २.पहेलियाँ जरूर बूझें.....:- भाई आजकल ब्लॉग जगत में दो ही फार्मूले हिट हैं....या तो पहेली पूछें....या फिर पहेली बूझें....यदि दोनों काम कर सकें तो और भी उत्तम .....वैसे तो पहेली के दो ही हैड ओफ्फिस हैं......ताऊ जी की पहेली और रचना जी के ब्लॉगर पहचान......मगर सूना है अब इसकी कई ब्रांचें....और भी खुल गयी हैं......तो लगे रहिये ताक में कोई पहेली पूछे आप फट से घुस जाइए...जवाब दीजिये....अरे नहीं आता तो क्या हुआ....यही कह दीजिये ....नहीं आता...इसमें कौन सा ख़तरा है की गलत जवाब देने से आपके ब्लॉग्गिंग का लाईसेंस कोई छीन लेगा....समझ गए न.... ३. जब भी चिट्ठाचर्चा हो,,,पढिये और टिपियाइये.....:- जी हाँ ....इस फार्मूले के तो फायदे hee फायदे हैं.....एक तो बढिया ब्लोग्पोस्त एक ही जगह पर पढने को मिल जायेंगे......और उस पर प्रतिक्रया देने के भी बहुत लाभ हैं.....क्या पता किसी दिन आपकी कोई टिप्प्न्नी किसी चर्चाकार को अच्छी लगे ....और अगली चर्चा में आपका भी नाम हो.....क्या बात है....अभी से दिल में laddu footne लगे.... 4. अच्छी टिप्प्न्नी kariye....:- हाँ ...मुझे पता है..आपके लिए ये thodaa मुश्किल है....फिर आप इतने biji insaasan टिप्प्न्नी कैसे कर सकते हैं.....यार ainvein ही किसी की taareef किये जाओ ...सबके बस की बात थोड़े ही है....मगर pleeej pleej कोशिश तो kijiye न.....टिपियाइये और आपको भी लोग padhenge.......अरे ब्लॉग पोस्ट न सही तिप्प्न्नियाँ तो padhenge ही..... 5. अनुसरण करें...:- ये हीरो बनने की नई सेवा है.....हीरो न सही....सबके दोस्त तो आप बन ही जायेंगे....... अब सुपर हीरो बनने का एक और अकेला फार्मूला ....:- विवादित पोस्ट likhiye......इससे भी बात नहीं बन रही है तो ......फिर जाइए किसी भी ब्लॉग पोस्ट पार जाकर उसकी खूब आलोचना कीजिये.....भाषा अमर्यादित हो तो super हीरो बनने के चांस ज्यादा हैं.... और हाँ एक बात जो सबसे जरूरी थी वो तो मैं kehna ही भूल गया.....यदि आप सिर्फ ब्लॉग्गिंग पर लिख रहे हैं तो बांकी सारे फार्मूले भी फेल हैं.......देखिये न .....मैं खुद यही करने में लगा हूँ......... अब बस अब आगे ब्लॉग्गिंग पर .........नहीं......पता नहीं....अरे छोडो ....ब्लॉग्गिंग पर ...ही लिखूंगा....जब भी मौका मिलेगा....

26 टिप्‍पणियां:

  1. सही है लगे रहो भाई और हो सके तो कसाब अफ़जल या उसके वकील के फ़ेवर मे भी लिख डालो इनके विरोधियो को गरिया दो सेकुलरता के फ़ेवर मे लिख डालो . हिंदुओ को गालिया दो तब भी आप फ़ेमस हो जाओगे ढेरो लोग आयेगे आपका उत्साह बढाने :) उन्हे राय दे डालो मूर्ती पूजा ना करे , मुर्दो को दफ़नाये इत्यादी :) या फ़िर ब्लोगरो मे झगडा कराकर कर मौज लो :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक आसान तरीका और
    पोस्‍ट कॉपी करिए
    और अपने ब्‍लॉग पर लगाइए
    पूरे ब्‍लॉग जगत पर
    छा जाइये कौन कहता है
    बदनाम होंगे तो नाम न होगा
    बल्कि खूब नाम होगा।

    चुराने के लिए मशहूर ब्‍लॉगर की
    ऑरीजनल पोस्‍ट ही चुराकर छापें।

    उत्तर देंहटाएं
  3. पुराने फ़ार्मूले कुछ नया बताओ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत बढ़िया और नए नुस्खे हैं. ट्राई करते हैं. शायद हीरो बन जाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  6. blogging main parsidh honey ke liye shai likha hai,parntu naye blogs aur bloggers ka kya hoga?

    उत्तर देंहटाएं
  7. भाई आप इतने दिनों से कहां छुपे थे? बहुत धन्यवाद ये काम की बात बताने के लिये.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  8. ये तरीके बहुत आजमाए जा चुके हैं और पंगेबाज जी वाले भी। कुछ नए के लिए अगली पोस्ट की प्रतीक्षा है।

    उत्तर देंहटाएं
  9. हा हा.. मस्त पोस्ट है.. पढ़ते पढ़ते हंसी आ गयी.. जमाये रहिये

    उत्तर देंहटाएं
  10. लगता है आप को भी "हनुमान जी का मच्छर के आकार का बनना कोरी कल्पना नहीं" होने पर विश्वास नहीं है।

    Like Mr.Dineshrai Diwedi make fun of hindu religion and faith. Playing with word is his profession (as Lawyer) and playing with Hindu Faith is his hobby (as Blogger)

    उत्तर देंहटाएं
  11. अमा ये क्या कर डाला हमने...भैया जोगों हमने जो नुश्के बताये हैं वो इसलिए थोड़े बताये थे की आप टिपिया टिपिया कर यही अखाडा खोद लो....और भाई अनाम जी...lagtaa है आप सबसे ज्यादा भड़के हुए हैं......यार नुस्खे आजमाने की देत कल से शुरू है भाई....बताइये दूसरों को हीरो बनाने के चक्कर में आप लोग तो हमें ही विलेन बनाए दे रहे हैं....देखें अभी और कितनी मिट्टी पलीद होती है.....

    उत्तर देंहटाएं
  12. चलिए अजय जी, इतनी टिप्पणियाँ आने के बाद नुस्खा सत्यापित हुआ। मिलावट की कोई संभावना नहीं।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com
    shyamalsuman@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  13. ब्लोगिंग में भी यही सब शुरू हो गया, या पहले से चलता था मुझे नही पता? नया हूँ ना.

    उत्तर देंहटाएं
  14. इतनी सारी टिप्पणियां!!!!!!!!!!!!!! बन गए ना हीरो:-)

    उत्तर देंहटाएं
  15. Bada sakoon mila nuskhe dekh kar..main bhi khud ke upar kuch likh kar dekhun kya?? :)

    उत्तर देंहटाएं
  16. बढ़िया है सुझाते रहिए नए-नए नुस्खे। वैसे आपका नुस्खा काम तो कर ही गया। देखिए न टिप्पणियों का ढेर लगा है। एक टिप्पणी हमारी भी जोड़ लीजिए।

    उत्तर देंहटाएं
  17. बहुत सही गुरु.. मजा आया.. कुछ आईडिया वाकई रचनात्मक है...

    उत्तर देंहटाएं
  18. लेखन की इस शैली को क्या कहते हैं ?

    उत्तर देंहटाएं
  19. अरे सर....इसे भी कुछ कहते हैं क्या...मैं तो इसे मगजमारी ही कहता हूँ....तौबा तौबा अब जल्दी से ब्लॉग्गिंग पर कुछ लिखने की अपनी हिम्मत नहीं रही...अजी और भी विषय हैं...ब्लॉग्गिंग के सिवा....चलिए कल से देखिये...

    उत्तर देंहटाएं
  20. wah bhai, sateek anlysis. jamkar najar rakhate hai aap blogia dunia ke internal khel par...aapke nuskhe bhi bakiyo ka path pradrashan karenge keep it up anuj

    उत्तर देंहटाएं
  21. badhiya nuskhe hain. anubhavjanya prateet hote hain. Is gyan ke liye thanks

    उत्तर देंहटाएं
  22. नुस्खा नं 4 और 5 पसंद आए। तुरंत उन पर कार्रवाई भी कर दी!

    कल अखबार में मेरा फोटो देख लीजिएगा, या फिर टीवी पर ही नजर आ जाऊं!

    या, हीरो ब्लोगरों के प्रकट होने का कोई और स्थान हो, तो वहां ओटोग्राफ देते हुए मिल जाऊंगा!

    उत्तर देंहटाएं
  23. bahut khoob...likhte rahiye aur paathko ko gudgudate rahiye

    उत्तर देंहटाएं

मैंने तो जो कहना था कह दिया...और अब बारी आपकी है..जो भी लगे..बिलकुल स्पष्ट कहिये ..मैं आपको भी पढ़ना चाहता हूँ......और अपने लिखे को जानने के लिए आपकी प्रतिक्रियाओं से बेहतर और क्या हो सकता है भला

साथ चलने वाले

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...