इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

बुधवार, 28 नवंबर 2007

यूं बने हस्तरेखा विशेषज्ञ

आओ सोचेंगे ये क्या बात हुई, क्यों बन जाएँ हम, वो भी ज्योतिषी । अजी हमें क्या लेना ग्रह, नाख्स्त्रों से और हस्तरेखा से ।

अजी सुनिए तो कौन कहता है आप तोता पाल कर दुकान खोलिए या फिर कोम्पुटर के घिसे पिटे कुंडली बनाने वाले प्रोग्राम का ऑफिस खोलिए। आप कुछ मत करिये । सिर्फ युवतियों/महिलाओं (भाई अपनी उम्र के हिसाब से ये तो आपको खुद ही तय करना पडेगा) में ये बात फैला दीजिए कि आप हाथ देख कर उनके बारे में उन्हें कुछ विशेष बातें बता सकते हैं। यहाँ हस्तरेखा विशेषज्ञ बनने की सलाह देने के पीछे एक विशेष मकसद ये है कि इससे आपको कुछ देर के लिए ही सही उन महिला/ युवती का हाथ थमने का वो सुनहरा अवसर मिल जायेगा जिसके लिए आप ना जाने कब से मरे जा रहें हैं। तो हात थामिये और शुरू हो जायी:-

आप बहुत अछे और बडे दिल की मालकिन हैं (फिर चाहे वो टी वी सीरियल की सबसे खराब कारक्टर वाली लेडी से भी ज्यादा खराब क्यों ना हो)।

आपको कोई समझ ही नहीं पाय आज तक , जबकि आप हमेशा दूसरो को भलीभांति समझती आयी हैं।

आप आज तक दूसरो के लिए ही जीती ,करती रहीं मगर किसी ने भी आपका वैसा साथ नहीं दिया ना ही आपके कम की क़द्र की।

आप जिस नाम, ओहदे ,और प्रशंशा की हक़दार थी वो आपको नहीं मिल पाया ।

आख़िरी बात जल्दी ही आपकी स्थिति में बदलाव आयेगा,( लाख पूछने पर भी ये ना बताएं कि बदलाव अच्छा होगा या बुरा )



बस इतनी पंडिताई झाड़ दीजिए। इससे ज्यादा ना आप भविष्यवाणी कर सकते हैं न ही उनका हाथ पकडे रह सकते हैं। मगर यकीं मानिये इतने ही ज्ञान-बखान से आपका नाम हो जायेगा।


हाँ एक वैधानिक चेतावनी:- ये नुस्खा बारे-बारी से और अलग अलग अपनाएँ अन्यथा आपका खुद का भविष्यफल बिगड़ सकता है।


ऐसे ही दिव्या ज्ञान के लिए जुडे रहें.........

1 टिप्पणी:

  1. aap ne bina soche lhk diya .aapne hast rakha adhyan nahi kiya .
    aap achha khane ke sokin hai .aaptark achha dete h .aap aone pass wale se madhur bolte ho .aap kla prmi ho .jiddi ho .ldkiyo se prem karte ho.aap ek sath kai ladkiyo ke sath rhte ho .aab aaie samajh me .

    उत्तर देंहटाएं

मैंने तो जो कहना था कह दिया...और अब बारी आपकी है..जो भी लगे..बिलकुल स्पष्ट कहिये ..मैं आपको भी पढ़ना चाहता हूँ......और अपने लिखे को जानने के लिए आपकी प्रतिक्रियाओं से बेहतर और क्या हो सकता है भला

साथ चलने वाले

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...